DM ki full form kya hai | DM की Salary कितनी होती है?

DM Full Form:- हर Country के लोगो को Facility देने का काम बड़े बड़े Officer और तथा छोटे छोटे Officer का काम होता है इसलिए इनको नियुक्ति किया जाता हैं, क्योंकि दोस्तों वह लोगों की सही ढंग से सेवा कर सकें, और जिसके माध्यम से ही Country,State तथा District में होने वाले सभी के सभी Work को भलीभांति सही ढंग से पूरे किये जाते है, क्योंकि दोस्तों छोटे काम हो या बड़े काम सभी के सभी काम यह Government Officer ही करते हैं

चाहे वह किसी नेता की आने पर उनके लिए सुरक्षा प्रदान करना हो या फिर कहीं दंगा हो रहा हो उस को शांत करना हो यह सब काम Government Officer ही करते हैं(DM Full Form) क्योंकि यह Government Officer हर State में होते है, और दोस्तों हर District मे भी होते हैं, और दोस्तों District में कार्यों को सभाल ने के लिए Government के द्वारा Officers को सेलेक्ट की जाती है जिससे कि District में कोई भी गलत काम हो या फिर आपकी सुरक्षा का इंतजाम हो यह सब काम Government Officer ही करते हैं, और दोस्तों District में सबसे बड़ा Officer जिसका नाम DM (डीएम) होता है,

और दोस्तों सभी जिलों में एक DM (डीएम) होता है, जो कि एक बड़ी पोस्ट पर होता है,और  उस DM (डीएम) का Work होता है कि वह अपने जिले की सुरक्षा कर सकें और सारे गलत कामों को रोक सके, इसी तरह DM (डीएम) District का सबसे बड़ा एक Officer होता है, जो कि District की सुरक्षा के साथ-साथ District की सही ढंग से सेवा भी करता है,

दोस्तों यह एक District का सबसे बड़ा पद होता है, जिसमें DM (डीएम) Officer को अच्छी खासी Salary भी प्राप्त होती है, अगर आप भी DM (डीएम) बनना चाहते हो तो इस Article को पूरा पढ़ें, और इसलिए यदि आप भी DM (डीएम) के विषय में सारी की सारी जानकारी जानना चाहते है, इसलिए दोस्तों आज यहाँ पर आपको DM (डीएम) का Full Form क्या होता है,और  DM (डीएम) का क्या मतलब है, DM (डीएम)के बारे मे सारी कि सारी जानकारी प्रदान की जा रही है,

 DM (डीएम) का Full Form Hindi And English?

DM (डीएम) का  Full Form आपको बता दूं दोस्तों की (District Magistrate) ये होता है और इसे English मे कहते हैं, और DM (डीएम) को हिंदी Language में  (जिला मजिस्ट्रेट) भी कहते हैं, और वहीं DM (डीएम) को एक (IAS) Officer मतलब की दोस्तों उनको  Indian Administrative Services भी कहते हैं, और (आईएएस) को   हिंदी Language मे भारतीय प्रशासनिक सेवा भी कहा जाता है, क्योंकि दोस्तों यह India में हार जिले में एक DM (डीएम) होता है, और Baggage Administration के सबसे सीनियर Executive Magistrate तथा Chief भी होता हैं।

DM :- District Magistrate

ये DM का  District Magistrate यह नाम English में होता है,

DM :- जिला मजिस्ट्रेट

और ये MA का जिला मजिस्ट्रेट यह नाम हिन्दी मे होता है,

DM का Full Form आपको अब पता ही चल गया है,

DM (डीएम) का क्या मतलब होता है?

एक DM (डीएम) District के सबसे बड़े Officer से भी बड़ा Officer होता है, क्योंकि दोस्तों DM (डीएम) का स्थान District का सबसे ही बड़ा स्थान होता है,  DM (डीएम) एक वह Officer होता है, जिसे District में Land Revenue के Collection के लिए जिम्मेदार  DM (डीएम) ही होता है, और  DM (डीएम) को District का सबसे बड़ा न्यायाधीश भी कहा जाता है, और वहीं, हार  District में दोस्तों एक न्यायालय होता है, दोस्तों आपको बता दूं कि

जो Court में न्यायाधीश होते है, उनको ही District Judge भी  कहा जाता है, और वह एमात्र DM (डीएम) ही होता है, जोकि एक District  में सेवा से लेकर हर वह सुविधा प्रदान करने का काम DM (डीएम) ही करता है और और दोस्तों  District कि सुरक्षा व्यवस्था को बनाये रखने की DM (डीएम) ही अपनी जिम्मेदारी होती है, अगर दोस्तों कोई भी रखना हो जाए या कोई भी गलत काम हो जाए उसकी जांच के लिए DM (डीएम) ही आदेश करता है, इसलिए दोस्तों DM (डीएम) को District का सबसे बड़ा Head भी कहते है।

DM (डीएम) बनने के लिए योग्यता?

यदि आपको भी DM (डीएम) District Magistrate बनना है तो उसके लिए अपको को कोई भी बढ़िया मान्यता प्राप्त University से आप इसके लिए Graduation करना पड़ेगा,और फिर Graduation में सफलता प्राप्त करना बहुत ही आवश्यक होता है, क्योंकि Graduation के बिना आप DM (डीएम) नहीं बन सकते हैं, अन्यथा आप इस पद के लिए कभी भी आवेदन नहीं कर सकते है।

 DM (डीएम) बनने के लिए आयु सीमा?

DM (डीएम) यानी कि दोस्तों  District Magistrate बनने के लिए Studends की लगभग Age 20 Year लेकर लगभग DM (डीएम) के लिऐ Age  30 Year होनी बहुत आवश्यक होती है, और दोस्तों वहीं, OBC Category के  Studends की लगभग Age 21Year और अधिकतम इनकी Age 33Year होनी आवश्यक होती है,और इसके अलावा  SC/ST Category  के Studends की लगभग Age 21Year और लेकर अधिकतम Age 35 Year Something  होनी अनिवार्य है, और दोस्तों इस से ज्यादा आपकी Age है तो आप लगभग DM (डीएम) नहीं बन सकते हैं,

डीएम का परीक्षा पैटर्न (DM EXAM PATTERN)?

District का DM (डीएम) बनने के लिए दोस्तों आयोजित की जाने वाली सभी कि सभी Examinations को तीन मुख्य चरणों में बांटा जाता है | जो कि वह इस प्रकार से है-

1.DM (डीएम) की प्रारंभिक परीक्षा?

District के DM (डीएम) इस पद के लिए आवेदन करने वाले सभी Studends को सबसे पहले की शुरुआत के exam में सफलता प्राप्त करना बहुत ही आवश्यक होता है, जिसमें Studends को बहुत से Questions को बहुत  सही ढंग से हल करने होते हैं, जिसके लिए Studends को एक Fixed Time भी प्रदान किया जाता है, क्योंकि स्टूडेंट अपना एग्जाम सही ढंग से कर सकें इसलिए उनको Time Fixed कर दिया जाता है, और जो Time Fixed होता है उसी के अंदर Studends को वह exam करना होता है,

2 DM (डीएम) की मुख्य परीक्षा?

Studends को शुरुआती exam में  सही ढंग से सफलता प्राप्त करने के बाद ही कुछ Time बाद में Studends को फिर से दूसरे चरण के लिए अंतर्गत Main exam में सफलता प्राप्त करनी भी बहुत जरूरी होता है,और इस exam मे भी Studends को बहुत से Hard Questions पूछे जाते है, और जिन्हे भी Studends को एक निश्चित Time के अंदर ही Solve करने ही होते है, और दोस्तों जो Studends यह Question Solve नहीं कर पाते है, उनके लिए DM (डीएम) बनने का अवसर नहीं मिलता है,और वह Studends फिर से तैयारी मे जुट जाते हैं,

3 DM (डीएम) का (साक्षात्कार) INTERVIEW?

इन दोनों DM (डीएम) कि exam में सफलता प्राप्त कर लेने के कुछ दिन बाद ही Studends को INTERVIEW के लिऐ बुलाया है , जिसमें Studends से बहुत से Question किये जाते है, जो Question करते हैं, दोस्तों वह खुद एक IPS IAS Officer होते है जो सवाल का जवाब पूछते है, और जो Studends इन Question के जल्दी से Answer देता है, जिसके आधार पर ही Studends को इस पद के लिए उम्मीदवार नियुक्त किया जाता है |

डीएम के क्या कार्य है?

DM (डीएम) मुख्य रूप से अपनी District मे Law and order को बनाये रखने का काम खुद ही करता है। और Annual crime की Report सरकार को DM (डीएम) ही प्रदान करता है,और Police तथा Jails कि देखभाल DM (डीएम) काम खुद करता है, और सभी Worker की Divisional Commissioner को जानकारी भी खुद DM (डीएम) प्रदान करता है |

जब Divisional Commissioner कोई भी Officer की उपस्थिति नहीं होते है, तो District development Authority  के पद पर director के रूप में काम खुद  DM (डीएम) ही करने की जिम्मेदारी निभाता है,DM (डीएम) Work करने वाले Magistrates का निरीक्षण भी यही करते है।

क्या सीखा आज आपने?

मुझे उम्मीद है दोस्तों की आपको हमारा यह Article पसंद आया होगा, दोस्तों मेरी हमेशा यही कोशिश रहती है कि आपको कोई भी गलत information ना चली जाए, इसलिए मैं हर Article को कम से कम दो-तीन बार चेक करता हूं, दोस्तों मैंने इस Article में आपके लिए DM (डीएम) का Full Form in Hindi And English के विषय में पूरी जानकारी दी है, जिससे कि दोस्तों आप DM (डीएम) से जुड़ी जानकारी जानने के लिए किसी और Article को ना देखें,

अगर दोस्तों आपके मन में इस Article को लेकर कोई भी Doubts हो तो आप चाहते हैं कि इसमें कुछ सुधार हो तो आप नीचे Comment करके हमको आप बता सकते हैं,

यदि आपको दोस्तों इस Post में DM (डीएम) से जुड़ी जानकारी पसंद आई हो तो और आपको कुछ सीखने को मिला हो तो कृपया करके इस Post को Social Networks जैसे की Messenger, WhatsApp, Instagram, Twitter, Facebook, आदि दूसरे Social Media पर Share करें।

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Read Alos:- WhatsApp Ka Avishkar Kisne Kiya | WhatsApp App का Owner कौन है?

Read Alos:- ANM Full Form In Hindi / ANM Kya Hai In Hindi

 

Leave a Comment